sport sport game sport game 2

खेल एवं युवा कल्याण विभाग

खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा राज्य सरकार एवं भारत सरकार की योजनाओं का सम्यक् रूप से संपादन किया जा रहा है। उपलब्ध वित्तीय एवं प्रशासनिक संसाधनों से संपूर्ण छत्तीसगढ़ राज्य में खेल एवं युवा कल्याण विभाग समस्त गतिविधियों का सुचारू रूप से संचालन कर रहा है।

विभाग का यह प्रयास है कि उपलब्ध वित्तीय एवं प्रशासनिक संसाधनों का समुचित उपयोग कर राज्य के समस्त प्रतिभावान खिलाडि़यों एवं राज्य के युवाओं को उनसे संबंधित विभिन्न गतिविधियों में अधिकाधिक अवसर एवं सुविधाएं मुहैया कराई जा सके। इस उद्देश्य से हॉकी एवं तीरंदाजी की गैर छात्रावासी खेल अकादमी रायपुर का संचालन सरदार वल्लभ भाई अंतरराष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम में किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ राज्य की राजधानी रायपुर में तीरंदाजी की छात्रावासी खेल अकादमी संचालित की जा रही है । साथ ही स्वामी विवेकानन्द स्टेडियम कोटा रायपुर में बालिका फुटबॉल अकादमी (गैर आवासीय) तथा बालक-बालिका एथलेटिक अकादमी (गैर आवासीय) संचालित की जा रही है | स्व. बी. आर. यादव राज्य प्रशिक्षण केंद्र बहतराई जिला बिलासपुर में बालक बालिका आवासीय एथलेटिक अकादमी, बालक बालिका आवासीय हॉकी अकादमी, बालक बालिका आवासीय तीरंदाजी अकादमी तथा बालिका आवासीय कबड्डी अकादमी संचालित की जा रही है | भारत सरकार की खेलो इंडिया योजनान्तर्गत बहतराई बिलासपुर में आवासीय हॉकी , एथलेटिक एवं तीरंदाजी अकादमी की खेलो इंडिया स्टेट सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस के रूप में मान्यता प्रदान की गई है| इस अकादमी में हेड कोच न्यूट्रीशियन स्ट्रेंग्थ एंड कंडीशनिंग एक्सपर्ट,फ़िज़ियोथेरेपिस्ट स्पेशलिस्ट और 10 तकनिकी पदों की सेवाएं भी ली जा रही है |

ग्रामीण क्षेत्र के खिलाडि़यों की प्रतिभा को निखारने तथा ग्रामीण क्षेत्र के खिलाडि़यों को खेल के प्रति जागरूक करने के साथ-साथ उन्हें पर्याप्त अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से ग्रामीण क्षेत्र खेल अभ्यास योजना संचालित। राज्य में विश्वस्तरीय खेल अधोसंरचनाओं का निर्माण किया गया है। शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम परसदा नया रायपुर विश्वस्तरीय अधोसंरचना का उत्कृष्ठ उदाहरण है। यह क्रिकेट स्टेडियम भारत का बड़ा स्टेडियम है, जिसकी दर्शक क्षमता 60 हजार है। इस स्टेडियम में 04 आई.पी.एल. एवं 08 चैम्पियन्स लीग टी-20 के मैचों एवं रोड सेफ्टी क्रिकेट सीरीज सहित अन्केतराष्ट्रीय अधिमान्य टी-20 प्रतियोगिता के मैचों का सफल आयोजन सम्पन्न हुआ है। बी.सी.सी.आई. के द्वारा शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के पिच को सर्वोत्तम पिच (मैदान) का अवार्ड प्रदाय किया जा चूका है। अंतर्राष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम का निर्माण राजनांदगांव, रायपुर ,बिलासपुर एवं जशपुर में किया गया है। इसमें पोलीग्रास एवं हॉकी सिंथेटिक सतह लगाए गए हैं। अंतर्राष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम रायपुर में हॉकी वर्ल्ड लीग मेन्स फायनल राउण्ड नवम्बर-दिसम्बर 2015 में सम्पन्न हुवा | बिलासपुर में राज्य का बृहद खेल प्रशिक्षण केन्द्र का निर्माण किया गया है। इस वृहद खेल अधोसंरचना में आऊटडोर स्टेडियम, इण्डोर स्टेडिमय, एथलेटिक ट्रैक, सिंथेटिक सतह का हॉकी मैदान एवं इण्डोर गेम्स हेतु इण्डोर हॉल का निर्माण किया गया | इंडोर कबड्डी मैदान एवं आउटडोर कबड्डी मैदान का निर्माण लो. नि. वि. द्वारा किया जा रहा है| रायपुर में अंतर्राष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम के नजदीक पृथक विश्वस्तरीय हॉकी प्रैक्टिस पिच (सिंथेटिक सतह) का निर्माण किया गया है । राज्य शासन द्वारा विभिन्न खेलों के 181 उत्कृष्ठ खिलाड़ी घोषित किए गए हैं, जिनमें से वर्ष 2015-16 तक कुल 64 खिलाडि़यों को राज्य सरकार द्वारा शासकीय नौकरी दी जा चुकी है। राज्य सरकार द्वारा 29 अगस्त राष्ट्रीय खेल दिवस के शुभ अवसर पर राज्य के पदक प्राप्त खिलाडि़यों, प्रशिक्षकों एवं निर्णायकों को खेल अलंकरण सम्मान एवं नगद राशि पुरस्कार प्रदाय की जाती है। राज्य सरकार द्वारा खिलाडि़यों को दिए जाने वाले पुरस्कार राशि के मामले में छत्तीसगढ़ राज्य अग्रणी है। प्रदेश में खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से विभाग द्वारा प्रदेश में संचालित विभिन्न राज्य खेल संघ, जिला खेल संघ एवं अशासकीय खेल संगठनों को आर्थिक सहायता (अनुदान) प्रदाय की जाती है। खिलाड़ियों एवं खेल संघ की वर्तमान आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए मान्यता एवं आर्थिक सहायता नियम 2018 जारी किया गया है, जिसमें अनुदान राशि एवं अन्य आर्थिक सहायता राशि में बढ़ोतरी की गई है। राज्य के युवाओं को साहसिक गतिविधियों के माध्यम से राज्य के विभिन्न पर्यटन स्थ्लों एवं विषम भौगोलिक परिस्थिति वाले दुर्गम एडवेंचरर्स स्थलों में राज्य के साहसिक गतिविधियों में शामिल करयुवाओं को हौसला बढ़ाने एवं विषम परिस्थितियों से निकलने के लिए विशेष ट्रेनर के माध्यम से प्रशिक्षित कराया गया है। 35 वें राष्ट्रीय खेल केरल 2015 में राज्य के खिलाडि़यों ने 10 पदक प्राप्त किए हैं। आगामी 36 वां राष्ट्रीय खेल गुजरात में राज्य के खिलाडियों 02 स्वर्ण, 05 रजत एवं 06 कांस्य सहित कुल 13 पदक जीते| 37 वें राष्ट्रीय खेल गोवा में छत्तीसगढ़ के प्रतिवाभन खिलाडियों ने 3 स्वर्ण, 03 रजत एवं 19 कांस्य पदक सहित कुल 25 पदक जीते है |

खेलो इंडिया सेंटर्स - प्रदेश के 24 जिलों में, क्रमश: नारायणपुर में मलखम्भ, बीजापुर में तीरंदाजी ,शिवतराई बिलासपुर में तीरंदाजी, गरियाबंद में वॉलीबॉल, सरगुजा में फुटबॉल, जशपुर में हॉकी, राजनांदगांव में हॉकी, बालोद में वेटलिफ्टिंग, बलौदाबाजार में फुटबॉल, पाटन दुर्ग में कबड्डी, रायपुर में वेटलिफ्टिंग, रायगढ़ में बैडमिंटन, सुकमा में फुटबॉल,कांकेर में खो-खो, बस्तर में हॉकी, धमतरी में कुश्ती, जांजगीर चाम्पा में हॉकी, महासमुंद में तीरंदाजी, कोरबा में फुटबॉल, बलरामपुर में फुटबॉल, बेमेतरा में कबड्डी, दंतेवाड़ा में कबड्डी, मुंगेली में फुटबॉल एवं सूरजपुर में फुटबॉल खेल की खेलो इंडिया सेंटर्स स्वीकृत है |

संचालित प्रतियोगिताएँ

  • विकासखंड स्तर पर महिला खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन
  • विकासखंड स्तरीय ग्रामीण खेल प्रतियोगिता
  • जिला स्तरीय महिला खेलकूद प्रतियोगिता
  • जिला स्तरीय ग्रामीण खेल प्रतियोगिता
  • राज्य स्तरीय खेल पुरस्कार

सूचना पट्ट